Categories
Aarti

भोर भई दिन चढ़ गया – माँ वैष्णो देवी आरती

1.

भोर भई दिन चढ़ गया, मेरी अम्बे
हो रही जय जय कार मंदिर विच
आरती जय माँ
हे दरबारा वाली, आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ


2.

काहे दी मैया तेरी, आरती बनावा
काहे दी मैया तेरी, आरती बनावा
काहे दी पावां विच, बाती मंदिर विच
आरती जय माँ

सुहे चोलेयाँवाली आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ


3.

सर्व सोने दी तेरी, आरती बनावा
सर्व सोने दी तेरी, आरती बनावा
अगर कपूर पावां, बाती मंदिर विच
आरती जय माँ

हे माँ पिंडी रानी, आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली, आरती जय माँ


4.

कौन सुहागन दिवा, बालेया मेरी मैया
कौन सुहागन दिवा, बालेया मेरी मैया
कौन जागेगा सारी, रात मंदिर विच
आरती जय माँ

सच्चियाँ ज्योतां वाली, आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली, आरती जय माँ


5.

सर्व सुहागिन दिवा, बालेया मेरी मैया
सर्व सुहागिन दिवा, बालेया मेरी मैया
ज्योत जागेगी सारी रात मंदिर विच
आरती जय माँ

हे माँ त्रिकुटा रानी, आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली, आरती जय माँ


6.

जुग जुग जीवे तेरा, जम्मुए दा राजा
जुग जुग जीवे तेरा, जम्मुए दा राजा
जिस तेरा भवन बनाया मंदिर विच
आरती जय माँ

हे मेरी अम्बे रानी, आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली, आरती जय माँ


7.

सिमर चरण तेरा, ध्यानु यश गावें
जो ध्यावे सो, यो फल पावे
रख बाणे वाली, लाज मंदिर विच
आरती जय माँ

सोहनेया मंदिरां वाली आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ


1.

भोर भई दिन चढ़ गया, मेरी अम्बे
भोर भई दिन चढ़ गया, मेरी अम्बे
हो रही जय जयकार मंदिर विच
आरती जय माँ

हे दरबारा वाली, आरती जय माँ
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ

Aarti

Chalisa

भोर भई दिन चढ़ गया – माँ वैष्णो देवी आरती